समर्थक

Monday, September 1, 2014

""पारसमणि" में मेरी बालकविता "पाठशाला" का राजस्थानी में अनुवाद"

हनुमानगढ़ (राजस्थान) से प्रकाशित पत्रिका 
"पारसमणि" में मेरी बालकविता 
"पाठशाला" 
का राजस्थानी में अनुवाद प्रकाशित हुआ है।
अनुवादक है पं. दीनदयाल शर्मा।
Photo: हनुमानगढ़ (राजस्थान) से प्रकाशित पत्रिका 
"पारसमणि" में मेरी बातकविता 
"पाठशाला" 
का राजस्थानी में अनुवाद प्रकाशित हुआ है।
अनुवादक है पं. दीनदयाल शर्मा।

7 comments:

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।